• Tue. Jan 31st, 2023

बलरामपुर के इस बड़े मदरसे में 45 लाख रुपयों का गबन, पूर्व प्रबंधक समेत 6 लोगों पर केस दर्ज

Byadmin

Feb 10, 2021

बलरामपुर ( उत्तर प्रदेश ) :- उत्तर प्रदेश के बलरामपुर (Balrampur) में मदरसो में व्याप्त भ्रष्टाचार (Corruption in Madarsa) के नये-नये मामले सामने आ रहे हैं. जिले के सबसे बड़े मदरसों में एक फजले रहमानियां, पचपेड़वा में लाखो रुपये गबन किए जाने का मामला सामना आया है. मामले में मदरसा फजले रहमानिया के पूर्व प्रबन्धक शब्बीर हसन खां समेत 6 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है. पूर्व प्रबन्धक के खिलाफ धोखाधड़ी और गबन का केस मदरसे के वर्तमान प्रबन्धक मोहम्मद अहमदुल कादरी के तहरीर पर पचपेड़वा थाने में दर्ज किया गया है.

मदरसा फजले रहमानिया संस्था अंजुमन नाशिरुल उलूम, पचपेड़वा द्वारा संचालित है. पुलिस को दी गई तहरीर में मदरसे के वर्तमान प्रबन्धक मोहम्मद अहमदुल कादरी ने पूर्व प्रबन्धक पर 43 लाख रुपये से अधिक धनराशि के गबन का आरोप लगाया है. आरोप है कि पूर्व प्रबन्धक शब्बीर हसन खां ने अपने कार्यकाल के दौरान संस्था की नियमावली के विरुद्ध एकल खाता संचालित करते हुए संस्था को प्राप्त हुई 43 लाख से अधिक की धनराशि हड़प ली है.

ये है पूरा मामला_

आरोप है कि मोहम्मद शब्बीर हसन जब संस्था के प्रबन्धक बने थे, उस समय संस्था के खाते में 2,59,659.00 (दो लाख उनसठ हजार छह सौ उनसठ रुपये) अवशेष थे. वर्ष 2018-19 में संस्था को चन्दे, दान और इमदाद के रुप में 1691470.00 (सोलह लाख इक्यानवे हजार चार सौ सत्तर रुपये) तथा वर्ष 2019-20 को चन्दा, दान और इमदाद के रूप में 2114742.00 (इक्कीस लाख चौदह हजार सात सौ बयालीस रुपये) संस्था को प्राप्त हुए. दो वर्षो में कुल 4066141.00 (चालीस लाख छियासठ हजार एक सौ इकतालीस रुपये) संस्था को प्राप्त हुए. संस्था को चन्दा, दान और इमदाद से मिली समस्त धनराशि की प्राप्तियां संस्था में मौजूद है.

आरोप है कि पूर्व प्रबन्धक शब्बीर हसन खां ने इन समस्त धनराशि को संस्था के खाते में जमा न करके हड़प लिया और संस्था के इलाहाबाद बैंक की खाता संख्या 50052230191 में कोई भी धनराशि जमा नहीं की. मदरसा फजले रहमानिया के प्रिंसिपल नूरुल हसन ने अपने दिये गये स्पष्टीकरण में बताया है कि पूर्व प्रबन्धक शब्बीर हसन ने विभिन्न तिथियों को खर्च के नाम पर संस्था से 3446994.00 (चौतीस लाख छियालीस हजार नौ सौ चौरान्वे रुपये) लिये लेकिन खर्च का कोई विवरण, बिल या वाउचर संस्था को उपलब्ध नहीं कराया.
ये भी पढ़ें: बलरामपुरः मदरसों में फिर निकला भ्रष्टाचार का जिन्न, लॉकडाउन के बीच कब्जे का खेल, प्रिंसिपल सहित 6 पर FIR

खर्च का ब्यौरा मांगने पर देने लगे धमकी

मदरसा फजले रहमानियां के वर्तमान प्रबन्धक मोहम्मद अहमदुल कादरी ने जब इन खर्चो का ब्यौरा मांगना शुरू किया गया तो पूर्व प्रबन्धक ने धमकी देना शुरू कर दिया. पुलिस को दी गई तहरीर में वर्तमान प्रबन्धक ने आरोप लगाया है कि 28 जनवरी 2021 को पूर्व प्रबन्धक शब्बीर हसन खां अपने दो पुत्रों और तीन अज्ञात लोगों के साथ मदरसे में पहुंचे और उनके साथ गाली-गलौज करने लगे. इसी दौरान पूर्व प्रबन्धक ने मदरसे के कुछ महत्वपूर्ण कागजात फाड़ दिए और कुछ कागजात अपने साथ लेकर चले गये. वर्तमान प्रबन्धक की तहरीर पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है.

एसपी हेमन्त कुटियाल ने बताया कि मदरसा फजले रहमानिया में धोखाधड़ी और गबन किए जाने का मामला प्रकाश में आया है. प्रबन्धक की तहरीर पर केस दर्ज कर लिया गया है और आवश्यक विधिक कार्रवाई की जा रही है।