• Tue. Jan 31st, 2023

उड़ीसा से गांजा तस्करी को लेकर अब माफिया महिलाओं का धड़ल्ले से प्रयोग कर रहे हैं।

Byadmin

Mar 1, 2021

उड़ीसा से गांजा तस्करी को लेकर अब माफिया महिलाओं का धड़ल्ले से प्रयोग कर रहे हैं। इन महिलाओं को सड़क मार्ग से लक्जरी वाहन से परिवार का सदस्य बनाकर लाया जाता है और वाहन में ही सीट के नीचे व सीट को काटकर उसमें गांजा भरकर आजमगढ़ व आसपास के जिलों में लाया जाता है। इसका भंडाफोड़ आजमगढ़ के पुलिस ने किया है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मामले में उड़ीसा निवासिनी दो महिलाओं समेत 7 को गिरफ्तार किया गया है। जिसमें एक यूपी के जौनपुर, एक बिहार व पांच लोग उड़ीसा के हैं। इनके कब्जे से चार पहिया वाहन, 61 किलो गांजा व छह मोबाइल बरामद हुआ।

एसपी ने प्रेस वार्ता कर बताया कि स्वाट टीम व निजामाबाद थाना पुलिस की टीम संयुक्त रुप से संदिग्ध वाहनों व व्यक्तियों की चेकिंग कर रही थी तभी मुखबिर ने सूचना दी कि मुहम्मदपुर की तरफ से एक स्कार्पियो में भारी मात्रा में गांजा लेकर कुछ लोग आ रहे हैं। अन्तर्राज्यीय तस्कर गिरोह के सदस्य पकड़े जा सकते हैं। सूचना पर पुलिस टीम सतर्क हो गई और घेराबंदी कर ली। कुछ देर बाद एक सफेद स्कार्पियो गाड़ी मोहम्मदपुर की तरफ से आती दिखायी दी जिसको हम पुलिस बल द्वारा इशारा करके रोका गया तो गाड़ी में कुछ लोग दिखायी दिये। जिनको उतार कर नाम पता पूछा गया

तो उन्होने अपना नाम क्रमशः 1. विनय कुमार बिन्द निवासी बनवीरपुर थाना मुगराबादशाहपुर जनपद जौनपुर 2. अच्छेलाल शाह निवासी साहसा थाना भगवानपुर हाट जिला सिवान (बिहार) 3. अभयबीर निवासी गली मेटा थाना अदावा जिला गजपट्टी (उड़ीसा) 4. तप्पन कुमार पत्र निवासी रायपनका थाना अदावा जिला गजपट्टी (उड़ीसा) 5. प्रकाशवीर निवासी सुन्दरपुर थाना पाद्यापुर जिला रायगड़ा(उड़ीसा) 6. ललिता पत्नी घनिष्ठ गोरडिया निवासी रायगड़ा थाना रायगड़ा जिला रायगड़ा (उड़ीसा) व 7. मन्जूरा पत्नी अभिमन्यु निवासी रायगड़ा थाना रायगड़ा जिला रायगड़ा (उड़ीसा) बताये। इन सबकी तलाशी में छः मोबाईल बरामद हुआ।

गाड़ी की तलाशी में गाडी के अन्दर से दो बोरों में पैकेट में 60 किलोग्राम 800 ग्राम गांजा बरामद हुआ । जिसके सम्बन्ध में सभी से कागाजात मांगा गया तो कोई भी कागजात दिखा नही सके व स्कार्पियो वाहन के सम्बन्ध में भी कोई कागजात नही दिखा सके । कड़ाई से पूछताछ करने पर बताये कि हम लोग को गांजा की तस्करी करने से जो पैसे मिलते है आपस में बाट लेते हैं।