• Sat. Jan 28th, 2023

विश्व विख्यात काशी में भस्म और चीता की राख से मणिकर्णिका घाट पर खेली गई अनोखी होली

Byadmin

Mar 26, 2021

वाराणसी :- कई हजारों की संख्या में पहुंचे भक्त डमरु बजाकर खूब नाचे भस्म और चिता की राख के साथ खेली अनोखी होली
मणिकर्णिका घाट पर शमशान बाबा ने चिताओं के साथ खेला होली स्मशान बाबा के आगे पीछे भक्तों का लगा हुजूम
मान्यता है कि-महाश्मशान में खेली गई इस अनोखी होली के पीछे एक प्राचीन मान्यता है. कहा जाता है कि जब रंगभरी एकादशी के दिन भगवान विश्वनाथ मां पार्वती का गौना कराकर काशी पहुंचे तो उन्होंने अपने गणों के साथ होली खेली थी. लेकिन वो अपने प्रिय श्मशान पर बसने वाले भूत, प्रेत, पिशाच और अघोरी के साथ होली नहीं खेल पाए थे.