13 साल से लापता 55 बर्षीय मोनी सिंह घायल अवस्था मे मिला थाना मूंढापांडे क्षेत्र के छपरा मोड़ पर

मुरादाबाद :- मुरादाबाद के जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में खड़े एक बेटे की खुशी उसकी आंखों से आंसू बनकर छलक रही थी , मंजर ही कुछ ऐसा था ,क्योंकि वो बेटा तेरह साल से लापता अपने पिता को सामने अस्पताल के बिस्तर पर देख रहा था…

दरअसल मामला उस सामने आया जब एक बुजुर्ग व्यक्ति को घायल अवस्था में मुरादाबाद की थाना मुंडापांडे पुलिस ने जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया था, इन बुजुर्ग व्यक्ति के हाथ और पाव में गम्भीर चोट लगी हुई थी, शायद हाइवे पर किसी गाड़ी की चपेट में आकर घायल हो गए थे, इन्हें भर्ती कराने वाले दरोगा मनोज कुमार के अनुसार 9 अप्रैल की सुबह ये घायल अवस्था मे मिले थे,

ये केवल अपना नाम और जिले का नाम ही बता पा रहे थे, जिसके आधार पर पंजाब के जनपद संगरूर पुलिस से सम्पर्क किया, जिनकी शिनाख्त मोनी सिंह के रूप में हुई , और उसके बाद इनके परिजन इन्हें लेने के लिए पहुँचे हुए है,


जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में बिस्तर पर पड़े मोनी सिंह को लेने के लिए उसका बेटा बलजीत सिंह अपने अन्य परिजनों के साथ पंजाब के संगरूर जिले से पंहुचा था, जिसके अनुसार उंसने 13 साल से लापता अपने पिता का चेहरा आज मुरादाबाद के अस्पताल में देखा है, जिसके बाद से उसकी खुशी का ठिकाना नही है , दअरसल उसके पिता मोनी सिंह किसी मानसिक बीमारी के कारण घर से लापता हो गए थे, आज उन्हें वापस पाकर वो और उनका पूरा परिवार बेहद खुश है, अब इन्हें लेकर जा रहे है और घर जाकर और अच्छे से खुशी मनाएंगे