लॉकडाउन में राजश्री , पानपराग रुपी जहर अपने उचित मूल्य से 8से 10 गुना दामो में बिक रहा

धनपुरी :- जैसा कि पिछले साल लगे लॉकडाउन में राजश्री , पानपराग रुपी जहर अपने उचित मूल्य से 8से 10 गुना दामो में बिक रहा था अभी हाल में लगे लॉकडॉउन में फुटकर व्यापारियों के द्वारा फिर से दाम बड़ा कर कालाबाजारी सुरु हो गई जबकि लॉकडॉउन बड़े व्यापारियों की दुकान बंद होने से राजश्री की बिक्री 20 की जगह 40 हो गईं है जबकि इनको दुकान खोलने का कोई आदेश नही फिर भी बंद दुकान के आसपास रह कर गुटका की बिक्री डबल रेट में आपदा का अवसर उठाते हुए मिलते हैं इनपर लॉकडॉउन का कोई प्रतिबंध नही